“माता-पिता एवं शिक्षक पहचानें बच्चों की क्षमता':- सीमैट

“माता-पिता एवं शिक्षक पहचानें बच्चों की क्षमता':- सीमैट

 प्रयागराज। सीमैट में आयोजित वेबिनार का समापन शनिवार को हुआ। निदेशक सीमैट संजय सिन्हा ने कहा कि माता-पिता एवं शिक्षकों को अपने बच्चे की शारीरिक-मनोवैज्ञानिक क्षमता को समझना एवं पहचानना चाहिए। बिना बच्चे की समझ एवं रुचि जाने माता-पिता को बच्चे पर अपनी अभिलाषा के अनुसार सोचने, समझने एवं सीखने के लिए दबाव नहीं बनाना चाहिए।

बच्चे की क्षमता एवं रुचि को और बेहतर ढंग से समझने में हमारे शिक्षक की भूमिका महत्वपूर्ण हो जाती है। अध्यक्षता प्रो. आरसी त्रिपाठी, डॉ. कमलेश तिवारी, डॉ. मधुकर गुणे, अराधना दुबे, चिकित्सक डॉ. रोहित पांडेय तथा अभिभावक बविता वर्मा ने भाग लिया। डॉ. आकांक्षा सिंह, प्रो. अमरेन्द्र बेहरा, प्रो. सीमा धवन, प्रो. श्रीधर श्रीवास्तव, डॉ. रुचिदुबे ने विचार व्यक्तकिए। डॉ. अमित खन्ना ने संचालन व प्रभात मिश्रा ने धन्यवाद ज्ञापित किया।