सातवाँ वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मियों के DA, LTA, LTC और बोनस पर मोदी सरकार ने इस साल अबतक लिए ये महत्वपूर्ण फैसले

सातवाँ वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मियों के DA, LTA, LTC और बोनस पर मोदी सरकार ने इस साल अबतक लिए ये महत्वपूर्ण फैसले

 कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते (डीए), लीव ट्रैवल अलाउंस (एलटीए), लीव ट्रैवल कनसेशन (एलीटीसी) और बोनस पर सरकार ने इस साल अबतक कई अहम फैसले लिए हैं।


केंद्रीय कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते (डीए), लीव ट्रैवल अलाउंस (LTA), लीव ट्रैवल कनसेशन (LTC) और बोनस पर सरकार ने इस साल अबतक कई अहम फैसले लिए हैं। कोरोना संकट के चलते सरकार ने इस साल सबसे पहले डीए पर केंद्रीय कर्मचारियों को निराश किया था। सरकार ने फैसला लिया था कि कर्मचारियों का जनवरी 2020 से जून 2021 तक महंगाई भत्ता नहीं बढ़ाया जाएगा। इस फैसले के बाद कर्मचारियों को पुरानी दर (17 फीसदी) पर ही डीए का भुगतान किया जा रहा है।

इसके बाद सरकार ने कर्मचारियों के लिए सरकार ने पूर्वोत्तर, लद्दाख, अंडमान निकोबार द्वीप समूह और जम्मू-कश्मीर की यात्रा के लिए लीव ट्रैवल अलाउंस (LTA) की सुविधा दो साल के लिए बढ़ा दिया। इसके साथ ही जून में एलटीए के साथ बोर्डिंग पास अटैच करने की शर्त को हटा दिया था। हालांकि कर्मचारियों को अब सेल्फ डिक्लेरेशन देना होता है।
डीए और एलटीए पर फैसला लेने के बाद सरकार ने दिवाली से पहले कर्मचारियों के लिए LTC वाउचर स्कीम पेश की है। इसमें कर्मचारी छुट्टियों के बदले रेल या हवाई किराए के 3 गुना के बराबर वैल्यू का गुड्स या सर्विसेस खरीद सकते हैं।

वहीं दशहरे से पहले 30 लाख से ज्यादा केंद्रीय कर्मचारियों को बोनस का तोहफा दिया है। सरकार ने कहा है कि विजयदशमी या दुर्गा पूजा के पहले ही केंद्र सरकार के 30 लाख नॉन गैजेटेड कर्मचारियों को 3737 करोड़ के बोनस का भुगतान किया जाएगा, इससे बाजार में मांग बढ़ेगी और फेस्टिवल सीजन में मध्यम वर्ग के हाथ में पैसा होगा।